This page uses Javascript. Your browser either doesn't support Javascript or you have it turned off. To see this page as it is meant to appear please use a Javascript enabled browser.
संपर्क करें | सामान्यतः पूछे जाने वाले प्रश्न | उत्तर प्रदेश राज्य सड़क परिवहन निगम, उत्तर प्रदेश सरकार, भारत की आधिकारिक वेबसाइट।
हेल्पलाइन 24x7 हेल्पलाइन
1800-180-2877
व्हाट्स एप नंबर
9415049606

सामान्यतः पूछे जाने वाले प्रश्न

  • प्र0: यूपीएसआरटीसी के पास कितनी बसों का बेड़ा है?
    उ0: दिनांक 31.03.2019 के डाटा के अनुसार यूपीएसआरटीसी के पास 9293 स्वयं की एवं 2646 किराए की बसें हैं।
  • प्र0: निगम द्वारा कितने लोगों को रोजगार दिया गया है?
    उ0: दिनांक 31 मार्च 2019 के डाटा के अनुसार निगम में 61 प्रथम वर्ग के अधिकारी, 187 द्वितीय वर्ग के अधिकारी, 19143 तृतीय श्रेणी एवं 1752 चतुर्थ श्रेणी के अर्थात कुल 21413 लोगों का स्टाफ है।
  • प्र0: निगम कितने यात्रियों को यात्रा की सुविधा प्रदान करता है?
    उ0: यूपीएसआरटीसी, वार्षिक रूप से लगभग 5752.91 मिलियन यात्रियों को यात्रा की सुविधा प्रदान करता है (2019-20)।
  • प्र0: निगम के पास स्वयं की किस प्रकार की बसे हैं?
    उ0: सामान्य, जनरथ
  • प्र0: एक सप्ताह में निगम की बसें लगभग कितनी दूरी तय करती हैं?
    उ0: निगम की बसें प्रति सप्ताह लगभग 39.39 मिलियन किमी का सफर तय करती हैं।
  • प्र0: निगम का गठन कब हुआ था? उ0: उत्तर प्रदेश में जन सड़क परिवहन सेवाएं 15 मई, 1947 को लखनऊ-बाराबंकी मार्ग पर तत्कालीन उत्तर प्रदेश सरकार द्वारा संचालित किए जाने के साथ प्रारम्भ हुई थी।
  • प्र0: ऑनलाइन बस के टिकट खरीदने के क्या लाभ हैं?
    उ0:1- आप अपनी सुविधानुसार अपनी बस की सीट को आरक्षित कर सकते हैं तथा समय भी अपनी सुविधानुसार चयन कर सकते हैं।
    2- आप बसों का चयन बस के बोर्डिंग प्वाइंट, समय एवं बस के प्रकार के आधार पर कर सकते हैं।
  • प्र0: क्या ऑनलाइन बुकिंग करने हेतु मुझे पंजीकरण करना होगा?
    उ0: नहीं, पंजीकरण आवश्यक नहीं है। आप बतौर गेस्ट लॉगिन कर टिकट बुक कर सकते हैं। हालांकि, बुक किए गए टिकट को निरस्त सिर्फ पंजीकृत उपयोक्ता द्वारा ही किया जा सकेगा। ऐसा इसलिए आवश्यक है ताकि आपके क्रेडिट कार्ड, बैंक खाता, प्रयोग किए गए टिकट, निरस्त किए गए टिकट तथा उपयोक्ता की जानकारी को सुरक्षित रखा जा सके। हालांकि, यदि आप यूपीएसआरटीसी के साथ बुकिंग हेतु पंजीकरण करते हैं तो कुछ आसान चरणों की प्रक्रिया का पालन कर आप माई टिकट एकाउंट में अपने टिकट को निरस्त भी कर सकेंगे। इसके अतिरिक्त आप अनाधिकृत टिकट के इस्तेमाल से बच सकेंगे/आपके कार्ड अथवा एकाउंट के विवरण की जानकारी सुरक्षित रहेगी। इसके साथ प्रमोशनल योजनाओं, माइलेज तथा बुकिंग आधारित लाभ भी प्राप्त कर सकेंगे जिन्हें यूपीएसआरटीसी द्वारा अपने नियमित यात्रियों के लिए लॉंच किया जाता है।
  • प्र0: क्या ई-टिकट का प्रिंटआउट निकाला जाना आवश्यक है?
    उ0: नहीं, ई-टिकट का प्रिंट आउट निकालना अनिवार्य नहीं है। अधिकृत उपयोक्ता की मान्य फोटो आईडी के साथ मोबाइल फोन, लैपटाप, टैबलेट आदि द्वारा ई-टिकट दिखाए जाने पर उसे वैध माना जाएगा।
  • प्र0: मेरा टिकट खो गया है। मैं क्या करूं?
    उ0: आप ई-टिकट को इलेक्ट्रॉनिक फार्मेट में प्रयोग कर सकते हैं अथवा ई-मेल पर प्राप्त हुए ई-टिकट का प्रिंट आउट निकलवा लें अथवा माइ टिकट सेक्शन से टिकट का प्रिंट आउट निकाल लें, यदि आप पंजीकृत उपयोक्ता हैं तो। यदि आपने ऑनलाइन टिकट बतौर गेस्ट बुक किया था तो कृपया हेल्पडेस्क पर संपर्क करें जिसका विवरण आपके मोबाइल नंबर पर प्राप्त हुआ होगा। प्राधिकृत उपयोक्ता द्वारा पहचान की पुष्टि कराए जाने के पश्चात टिकट की प्रति उपलब्ध कराने हेतु सहायता प्रदान की जाएगी, हालांकि ऐसी परिस्थिति में यात्रा पूरी नहीं होने के कारण यात्री को उनके टिकट की राशि रिफंड नहीं किए जाने का प्रावधान है।
  • प्र0: क्या जो यात्री यात्रा कर रहे हैं टिकट उन्हीं के डेबिट/क्रेडिट कार्ड से बुक किया जाए, ऐसा अनिवार्य हैं?
    उ0: नहीं ऐसा अनिवार्य नहीं है। भुगतान का माध्यम तथा यात्री की एक दूसरे पर कोई निर्भरता नहीं है। हालांकि, यात्रियों के लिए यह अनिवार्य है कि यात्रा के दौरान यात्री वैध पहचान प्रमाणपत्र अपने पास रखें।
  • प्र0: मैं किन माध्यमों से भुगतान कर सकता हूं?
    उ0: आप निम्न माध्यमों से भुगतान कर सकते हैं
    1- क्रेडिट कार्ड
    2- डेबिड कार्ड
    3- इंटरनेट बैंकिंग
  • प्र0: क्या मैं अपने इंटरनेट सक्षम बैंक खाते का उपयोग कर भुगतान कर सकता हूं?
    उ0: हां, आप टिकट बुक करने हेतु पेमेंट गेटवे पर प्रदर्शित हो रही बैंक की सूची के किसी भी बैंक की नेट बैंकिंग के माध्यम से भुगातन कर सकते हैं।
  • प्र0: क्या मैं ऑनलाइन अपना टिकट निरस्त कर सकता हूं?
    उ0: पंजीकृत उपयोक्ताओं द्वारा बुक किए गए टिकट को ऑनलाइन निरस्त किया जा सकता है, जिसका शुल्क भी निरस्तीकरण/रिफंड पॉलिसी के आधार पर निरस्त करते समय प्रावधानित है। यात्रा का प्रारंभिक बिंदु, प्रस्थान का समय और गंतव्य स्थान का नाम आपको ई-टिकट पर अधिसूचित किया जाएगा।
  • प्र0: निरस्तीकरण नीति तथा लागू शुल्क क्या है?
    उ0: निरस्तीकरण शुल्क की गणना यूपीएसआरटीसी के व्यापार नियमों के आधार पर की जाएगी। इसके अतिरिक्त, संबंधित पीजी/बैंक नियमों के अनुसार बैंक शुल्क और/या सुविधा शुल्क भी लागू होंगे। रिफंड सामान्य रूप से अनुरोध के 7 से 10 दिनों में संसाधित किया जाएगा और स्वतः उसी क्रेडिट/डेबिट कार्ड या बैंक खाते में भेजा जाएगा।

निम्न निरस्तीकरण शुल्क लागू होगी:


निर्धारित समय

निरस्तीकरण शुल्क

निर्धारित प्रस्थान समय के 24 घंटे से अधिक

कुल राशि में से केवल आरक्षण शुल्क ही काटा जाएगा।

निर्धारित प्रस्थान समय से 24 घंटे से और 2 घंटे पहले तक

मूल किराए तथा आरक्षण शुल्क का 10% बतौर निरस्तीकरण शुल्क के रूप में काटा जाएगा।

निर्धारित प्रस्थान समय से 2 घंटे से 1 घंटे पहले तक

मूल किराए तथा आरक्षण शुल्क का 15% बतौर निरस्तीकरण शुल्क के रूप में काटा जाएगा।

निर्धारित प्रस्थान समय से 1 घंटे पहले तक

मूल किराए तथा आरक्षण शुल्क का 25% बतौर निरस्तीकरण शुल्क के रूप में काटा जाएगा। यात्री द्वारा टिकट के निरस्तीकरण हेतु टीडीआर भरा जाना होगा।

बस प्रस्थान के बाद

कोई रिफंड नहीं मिलेगा

  • प्र0: यूपीएसआरटीसी द्वारा बस सेवा रद्द करने या सेवा के प्रकार वोल्वो एसी से नॉन एसी आदि में परिवर्तन करने पर मुझे किराए का रिफंड कैसे मिल सकता है?
    उ0: बस सेवा में परिवर्तन, बस सेवा को रद्द करने, बस सेवा के ब्रेक डाउन होने की स्थिति में किराया का रिफंड केवल संबंधित बैंक खाते के माध्यम से किया जाएगा तथा यात्री को कोई नकद धन वापसी नहीं की जाएगी। रिफंड के दावे के लिए, यात्रियों को संबंधित यूपीएसआरटीसी डिपो के डिपो मैनेजर को ई-टिकट प्रिंटआउट जमा करना होगा। डिपो प्रबंधक पेमेंट गेटवे कंपनी/बैंक के साथ धनवापसी प्रक्रिया शुरू करेगा एवं एक सप्ताह के भीतर यात्रियों के बैंक खाते में उनकी राशि स्वतः वापस कर दी जाएगी। रसीद न होने की स्थिति में, यात्री Transaction ID और PNR नंबर का उल्लेख करते हुए online.support@upsrtc.com पर एक मेल लिख सकते हैं। कुल किराये पर लागू सुविधा शुल्क, जो किसी भी निरस्तीकरण की स्थिति में लागू होगा उसे उपरोक्त मोड के माध्यम से यात्री को वापस कर दिया जाएगा।
  • प्र0: क्या मैं ई-टिकट बुक करने के बाद यात्रा की तारीख, नाम, लिंग, उम्र आदि बदल सकता हूं?
    उ0: एक बार ई-टिकट बुक करने के बाद, इसे बदला नहीं जा सकता है। ऐसी स्थिति में आपको वांछित नाम, लिंग, आयु, समय आदि से नया टिकट बुक करना होगा तथा मौजूदा बुक किए गए टिकट को आप निरस्त कर सकते हैं।
 
यह उत्तर प्रदेश राज्य सड़क परिवहन निगम, उत्तर प्रदेश सरकार, भारत की आधिकारिक वेबसाइट है।
इस वेबसाइट पर प्रकाशित विषयवस्तु व उसके प्रबंधन का कार्य उत्तर प्रदेश राज्य सड़क परिवहन निगम द्वारा किया जाता है।
इस वेबसाइट से संबंधित किसी भी प्रश्न के लिए, वेब सूचना प्रबंधक से संपर्क करें।
आगंतुकों की संख्या : Web Analytics
यह वेबसाइट यूपीडेस्को के माध्यम से ओमनी नेट द्वारा डिजाइन व डेवलप की गई